Mundra : Service News Road safety

ब्रह्माकुमारीज मुंदरा : विश्व युवा दिवस

ब्रह्माकुमारीज मुंदरा सेंटर द्वारा विश्व युवा दिवस के अवसर पर कला और वाणिज्य कॉलेज द्वारा आयोजित एक विशेष कार्यक्रम

मुंद्रा वर्ल्ड यूथ डे के तहत मुंद्रा आर्ट्स एंड कॉमर्स कॉलेज में ब्रह्माकुमारी विद्यालय शाखा द्वारा एक विशेष कार्यक्रम आयोजित किया गया था।
कार्यक्रम की शुरुआत में ब्रह्माकुमारी बहनों का स्वागत कॉलेज द्वारा किया गया था इसके बाद, कालेज के युवाओं से संबाधन करते हुए, ब्रह्माकुमारी सुशीलाबेन ने युवा दिन के उपलक्ष्य मे कहा कि आज हमारे देश में 54% युवा है युवा जीवन के महत्व को दर्शाते हुए कहा कि यदि युवाओं को एक सच्ची दिशा दी जाती जाए तो हमारा देश स्वतः प्रगति के साथ आगे बढ़ सकता है और इससे बेहतर समाज की रचना हो सकती है।
आज का युवा व्यसन और फैशन के अधीन है, अपनी ऊर्जा को नष्ट कर रहा है। युवाओं को सकारात्मक सोच देकर देश को मजबूत किया जा सकता है। ब्रह्माकुमारी विद्यालय का अलग अलग 20 विंग बनाया गया है जिसमें से एक युवा विंग भी है जिसके तहत विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन करके और युवा भाइयों और बहनों की आंतरिक शक्तियों को जागृत करके देश को मजबूत किया जा सकता है
इस अवसर पर, ब्रह्माकुमार विजयभाई ने विभिन्न तरीकों उनका उमंग उत्साह बढाया और व्यसन से मुक्त होने के नये नये तरीके बतायें ।
ब्रह्माकुमारी विद्यालय के भाइयों और बहनों ने एक विशेष व्यसन मुक्ति नाटक भी प्रस्तुत किया जिसमें तंबाकू शराब सिगरेट इत्यादि को विभिन्न पात्रों के माध्यम से व्यसनो से होने वाले नुकसान को दर्शाया ।
कॉलेज के प्रिंसिपल राजदीप सिंह जाडेजा और प्रोफेसर को आध्यात्मिक पुस्तकें और साथ ही प्रसाद ब्रह्मकुमारी विद्यालय भेंट किया।
कार्यक्रम के अंत में व्यसनमुक्ती के प्रेरणादाई नारा लगाकर वातावरण में उमंग उत्साह का लहर फैलाएं

ॐ शांति

 banner brahmakumaris course

 

राजयोग शिबिर

 

संसार का हर मनुष्य सुख–शांति की तलाश में रोज मंदिर, मस्जिद, चर्च, गुरूद्वारे में गुहार लगा रहा है। पूजा, पाठ, आरती, व्रत, उपवास, तीर्थ आदि धक्के खा खाकर इंसान थक गया है लेकिन सुख शांति आज भी कोसों दूर है.. बल्कि दुख, अशांति बढ़ती जा रही है, इसका एकमात्र कारण है देह अभिमान में वृद्धि होना और इन सब समस्याओं का एकमात्र निवारण और सुख, शान्ति का एकमात्र रास्ता स्व आत्मा का ज्ञान और परमात्मा की सही पहचान ।

 

इसी सत्य ईश्वरीय ज्ञान से और ईश्वर प्रदत्त राजयोग मेडिटेशन से सच्ची सुख, शान्ति का खजाना सहज ही मिल जाता है और सारा जीवन तनाव मुक्त होकर खुशहाल हो जाता है।”

 

जिसमें प्रात: 8 से 12 एवं संध्या 5 से 8 बजे तक राजयोग मेडिटेशन का नि:शुल्क प्रशिक्षण दिया जायेगा